[ad_1]

हाइलाइट्स

डेविन एक एआई सॉफ्टवेयर इंजीनियर है जिसे कॉग्निशन कंपनी द्वारा विकसित किया गया है
डेविन को मानव इंजीनियरों को बदलने के बजाय उनकी सहायता करने के लिए डिज़ाइन किया गया है
इसे हाल ही में जारी किया गया है, कहा जा सकता है कि किसी स्मार्ट रोबोट से ज्यादा स्मार्ट है

आजकल साफ्टवेयर की दुनिया में केवल डेविन की चर्चा है. ये बड़े पैमाने पर साफ्टवेयर इंजीनियर्स और कंपनियों में घबराहट पैदा कर रहा है. दरअसल ये केवल एक साफ्टवेयर प्रोग्राम नहीं है, जिसे एआई तकनीक से तैयार किया गया है, बल्कि ये एक अभूतपूर्व एआई है जो एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर के रूप में कार्य करता है, ये कोडिंग, डिबगिंग और यहां तक ​​कि ऐप्स और वेबसाइट विकसित करने में सक्षम है. इसे कॉग्निशन नाम की कंपनी ने बनाया है, इसके आने के बाद सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट का काम एआई के एक अलग दौर में पहुंच जाएगा. हालांकि दावा किया जा रहा है कि इसे नौकरियों को बदलने के बजाय उत्पादकता बढ़ाने, मनुष्यों के साथ काम करने के लिए डिज़ाइन किया गया है.

सीखने और किसी तकनीक के साथ चलने और उसके साथ काम करने की क्षमताओं के साथ डेविन ने सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग को अलग स्तर पर पहुंचा दिया है. कहा जा रहा है कि डेविन ऐसा एआई है, जो ये बताएगा कि फ्यूचर में एआई और मनुष्य कैसे ज्यादा निकटता से काम कर सकेंगे लेकिन इसमें इसके साथ वही लोग काम कर सकेंगे जो दिमागी और तकनीक तौर पर बहुत सक्षम और शार्प हों यानि जिनकी समझबूझ खासी बेहतर हो.

इसे इसी साल दुनिया के पहले AI सॉफ्टवेयर इंजीनियर के रूप में जारी किया गया. दावा किया गया है कि डेविन को मानव इंजीनियरों को बदलने के बजाय उनकी सहायता करने के लिए डिज़ाइन किया गया है. यह कोड लिख सकता है, वेबसाइट और सॉफ़्टवेयर बना सकता है. अपनी गलतियों से सीख सकता है. डेविन आगे की सोचने, जटिल कार्यों की योजना बनाने और नई तकनीकों को सीखने में भी सक्षम है.

हालांकि, कुछ लोगों को चिंता है कि डेविन आखिरकार मानव सॉफ्टवेयर इंजीनियरों की नौकरी ले सकते हैं. वैसे ये साफ है कि डेविन एक शक्तिशाली उपकरण है जो सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग उद्योग पर बड़ा असर डालने वाला है.

डेविन क्या कर सकता है
– कई प्रोग्रामिंग भाषाओं में कोडिंग, परीक्षण और तैनाती को अकेले संभाल सकता है.
– सीखना और अपनाना : यह हर प्रोजेक्ट से सीखेगा और खुद में सुधार और बेहतरी लाता रहेगा.
– मनुष्यों के साथ सहयोग : टीम की उत्पादकता बढ़ाने के लिए मानव इंजीनियरों को प्रतिस्थापित करने के बजाय सहायता.
– वास्तविक दुनिया के अनुप्रयोग : वेबसाइट निर्माण से लेकर ऐप विकास और सॉफ्टवेयर परीक्षण तक
– डेविन ने पहले ही वास्तविक परियोजनाओं में अपनी क्षमता दिखा दी है.
– ये इंजीनियर कठिन समस्याओं को हल करेगा.
– डेविन आगे की सोचने, जटिल कार्यों की योजना बनाने और नई तकनीकों को सीखने में भी सक्षम

किसने इसे बनाया है
कॉग्निशन कंपनी ने इस एआई टूल को बनाया है. इसके बनाने वाले का नाम स्कॉट वू है. वह एआई को और अधिक स्मार्ट बनाने पर बनाने में लगातार लगे रहे हैं. इस एआई टूल की खासियत ये भी है कि ये समस्याओं को सुलझाने में माहिर होगा.

सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग में एआई ने अब तक क्या किया है
– एआई लंबे समय से कोडिंग में मौजूद है लेकिन छोटे तरीकों से
– कोडिंग प्रोग्राम (आईडीई) में उपकरण यह अनुमान लगाने के लिए एआई का उपयोग करते हैं कि आप आगे क्या टाइप करने जा रहे हैं.
– कुछ प्रोग्राम गलतियों या शैली संबंधी समस्याओं के लिए स्वचालित रूप से आपके कोड की जांच करते हैं.
– ऐसे एआई उपकरण हैं जो कोड करते समय आपसे चैट कर सकते हैं, सलाह दे सकते हैं.

डेविन क्यों एक कदम आगे
यह पहला एआई है जो शुरू से अंत तक कोडिंग कार्यों को पूरी तरह खुद पूरा कर सकता है. डेविन से पहले, एआई उपकरण मददगार की तरह थे, जो एक समय में एक चीज़ पर ध्यान केंद्रित करते थे. डेविन अपने आप बहुत कुछ संभाल सकता है.

डेविन की क्षमताएं
– डेविन एक सुपर-स्मार्ट रोबोट की तरह है जो कोड करना जानता है
– इसे सॉफ़्टवेयर के निर्माण और सुधार में सहायता के लिए बनाया गया है

कोडिंग और परीक्षण
कोडिंग : डेविन पाइथॉन और जावास्क्रिप्ट जैसी कई कंप्यूटर भाषाओं में लिख सकता है. यह हर तरह की चीजें बना सकता है, जैसे वेबसाइट, ऐप्स और बहुत कुछ, बस यह समझकर कि आपको क्या चाहिए
परीक्षण : खुद अपने काम की जांच करता है और गलतियां ठीक कर लेता है. कुछ बनाने के बाद डेविन इसे इंटरनेट पर या जहां भी जाना हो, सेट कर सकता है.
अनुकूलन और सीखना : डेविन समय के साथ बेहतर होता जाता है. यह नई तकनीकी चीजें सीखता है, नए कौशल सीखता है और नई चुनौतियों से निपटने के लिए उनका उपयोग करता है.

इसकी और विशेषताएं, जो इसे अलग खड़ा करती हैं
योजना और तर्क : डेविन यह पता लगा सकता है कि जटिल सॉफ़्टवेयर कैसे बनाया जाए, कोड शुरू करने से पहले बड़ी परियोजनाओं को छोटे कार्यों में तोड़ दिया जाए. ये बेस्ट समाधान खोजने के लिए समस्याओं पर विचार करता है.
– यह परियोजना के बारे में महत्वपूर्ण विवरण याद रखता है, जैसे लक्ष्य क्या है और कौन से टूल का उपयोग करना है, ताकि ये भ्रमित न हो.
आत्म-सुधार : जैसे-जैसे डेविन अधिक काम करता है, वह सीखता है कि चीजों को बेहतर तरीके से कैसे किया जाए और वह अपने आप ही अपडेट कर सकता है.

डेविन कैसे काम करता है
– डेविन काफी स्मार्ट है. यह पता लगाने के लिए कि आपको क्या चाहिए, यह कैसे करना है, कोड लिखने और यहां तक ​​कि अपनी गलतियों को ठीक करने के लिए यह कुछ नवीनतम एआई तकनीक का उपयोग करता है।
– डेविन के दिमाग में एक विशाल पुस्तकालय है. यह विभिन्न प्रोग्रामिंग भाषाओं, सॉफ्टवेयर बनाने के तरीके और काम करने के सर्वोत्तम तरीकों के बारे में बहुत कुछ जानता है.
– जब आप डेविन से कुछ करने के लिए कहते हैं, तो वह आपके अनुरोध को समझने के लिए इस लाइब्रेरी का उपयोग करता है. सबसे पहले डेविन से जो पूछा है वो उसे छोटे-छोटे टुकड़ों में तोड़कर समझने की कोशिश करता है.
– यह पायथन और जावास्क्रिप्ट जैसी भाषाओं को जानता है और सब कुछ एक साथ रखने का सबसे अच्छा तरीका ढूंढ सकता है.

टीमों के साथ काम
डेविन सिर्फ अकेले काम नहीं करता, ये टीम का हिस्सा है. यह मानव इंजीनियरों से बात कर सकता है, उन्हें यह बता सकता है कि वह क्या कर रहा है और उनकी प्रतिक्रिया प्राप्त कर सकता है. बुनियादी कोड लिखने और गलतियों की जांच करने जैसे नियमित काम करता है. इससे मानव इंजीनियरों को पेचीदा समस्याओं पर ध्यान केंद्रित करने में मदद मिलती है. एक साथ काम करते हुए वे चीजों को तेजी से और अधिक क्रिएटिव तरीके से बना सकते हैं.

क्या ये नौकरियां छीनेगा
कहा तो यही जा रहा है कि डेविन को इंजीनियरों के साथ काम करने के लिए डिज़ाइन किया गया है ताकि उन्हें अपना काम बेहतर ढंग से करने में मदद मिल सके न कि उनकी नौकरियां छीनने के लिए. अब तक ये समस्याओं को हल करने और वास्तविक परियोजनाओं में मदद करने में बहुत अच्छा रहा है.

क्या है अब तक का प्रदर्शन
परीक्षणों में डेविन दी गई प्रत्येक 100 सॉफ़्टवेयर समस्याओं में ये करीब 14 को हल करने में कामयाब रहा. ये एक बड़ी बात है क्योंकि पुराने एआई मॉडल 100 में केवल 2 को ही हल कर सकते थे. इससे ज्यादा क्षमताओं वाला एआई टूल भी तैयार किया जा रहा है, जो नई संभावनाओं को खोल सकते हैं, कोड तो बस शुरुआत है.

कैसी वेबसाइट और एप्स बनाता है
– डेविन ने ग्राहकों के लिए वेबसाइटें बनाई हैं, वह इस बात का ध्यान रखती है कि साइट कैसी दिखे और इसे डेटाबेस से कैसे जोड़ा जाए. लोग इसके काम से खुश थे.
– एक मोबाइल ऐप के लिए डेविन ने ऐप का लुक डिज़ाइन करने और कोड लिखने में मदद की, जिससे ऐप काम करता है. इससे विकास प्रक्रिया तेज हो गई.

Tags: Artificial Intelligence, Software, Software company

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *